5G नेटवर्क का इंतजार है तो सावधान हो जाएं, हैकर्स के लिए आसान है नेटवर्क

कई स्मार्टफोन निर्माता कंपनियां अपने 5G सपोर्ट हैंडसेट इस वर्ष होने वाले मोबाइल वर्ल्ड कोंग्रस (MWC) 2019 में लॉन्च करने की तैयारियों में जुटी हुई हैं। इनमें Samsung और Huawei जैसी कंपनियां शामिल हैं। 5G नेटवर्क वाले स्मार्टफोन को लेकर कई तकनीकी कंपनियों के बीच काफी कड़ा मुकाबला जारी है। लेकिन इस उत्सुकता के बीच शोधकर्ताओं ने एक परेशानी जाहिर की है। शोधकर्ताओं के मुताबिक, 5G नेटवर्क के आने से हैकर्स, यूजर्स के डाटा को आसानी से हैक कर सकते हैं।

टेक्निकल यूनिवर्सिटी ऑफ बर्लिन (स्विट्जरलैंड) ETH ज्यूरिख और नॉरवे के सिनटेफ डिजिटल द्वारा एक रिसर्च जारी की गई है। इस रिसर्च में बताया गया है कि 5G नेटवर्क पर यूजर्स की प्राइवेसी चिंता का विषय है। रिसर्चर्स ने बताया कि 5G नेटवर्क पर फोन को सुरक्षित रखने का जो तरीका है उसके बाद सेल्यूलर नेटवर्क से फोन कनेक्ट नहीं हो सकता है।

हैकर्स स्मार्टफोन में यूजर्स के डाटा को 5G एयरवेव्स के जरिए आसानी से हैक कर पाएंगे। यही नहीं, यूजर के स्मार्टफोन से कई जरुरी और निजी जानकारी को भी हैकर्स द्वारा एक्सेस किया जा सकेगा। शोधकर्ताओं ने इस सुरक्षा परीक्षण को मौजूदा 4G नेटवर्क पर किया है। शोधकर्ताओं का कहना है कि 5G नेटवर्क आ जाने के बाद से हैकिंग के मामले काफी अधिक बढ़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here