कई बार स्मार्टफोन यूजर्स की तरफ से फोन ओवरहीटिंग की शिकायतें सामने आती हैं। ऐसा तब ज्यादा होता है जब आपका फोन चार्जिंग में लगा हो, आप गेम खेल रहे हों या फिर वीडियो स्ट्रीम कर रहे हों। ओवरहीटिंग का एक बड़ा कारण हार्डवेयर भी होता है, लेकिन फिर भी हमें अपने रोजमर्रा के कामों में कुछ सावधानियां बरतने की जरुरत है। इस पोस्ट में हम आपको कुछ स्मार्टफोन ओवरहीटिंग की समस्या को लेकर कुछ टिप्स देने जा रहे हैं जो आपके लिए मददगार साबित हो सकते हैं।

स्मार्टफोन को सीधे धूप में न रखें:

स्मार्टफोन का लंबे समय तक धूप में रहना ओवरहीटिंग का कारण बन सकता है। यह तब ज्यादा समस्या पैदा करता है जब फोन का बैक पैनल प्लास्टिक का हो। स्टडी के मुताबिक, फोन की टचस्क्रीन पर लंबे समय तक धूप में रहने से खराब असर पड़ता है। ऐसे में हम आपको यह सलाह देते हैं कि अगर आप लंबे समय तक बाहर हैं तो फोन को बैग में ही रखें।

चार्जिंग के समय फोन को सोफा और बेड पर न रखें:

स्मार्टफोन, चार्जिंग के समय ज्यादा गर्म होता है। ऐसे में अगर आपने फोन को सोफा या बेड पर रखा है तो यह हीट को और बढ़ा देता है। चार्जिंग के समय फोन को किसी सख्त सतह पर रखें।

फोन पर लगा बैक कवर उसका तापमान बढ़ाने का एक कारक है। इससे फोन का तापमान बढ़ जाता है। बैक कवर हटा देने से फोन का तापमान कम हो जाता है और डिवाइस फिर से ठंडी हो जाती है।

स्मार्टफोन को न करें ओवरनाइट चार्ज:

स्मार्टफोन को कभी-भी पूरी रात चार्जिंग पर नहीं लगाना चाहिए। हालांकि, ऐसा हम सभी करते हैं। यह न सिर्फ फोन को ओवरहीट करता है बल्कि बैटरी पर भी प्रभाव डालता है।

बैटरी खपत करने वाली ऐप्स को करें रीमूव:

कई ऐसी ऐप्स होती हैं जो बैकग्राउंड में चलती रहती हैं। इनसे फोन की बैटरी की खपत तो होती ही है, लेकिन इससे फोन ओवरहीट भी होने लगता है। ऐसे में इस तरह की ऐप्स को फोन से डिलीट कर देना चाहिए।

थर्ड पार्टी चार्जर और बैटरीज का न करें इस्तेमाल:

अपने स्मार्टफोन के साथ आप कभी-भी डुप्लीकेट चार्जर या बैटरी का इस्तेमाल न करें। इससे सीधा बैटरी पर असर पड़ता है या फिर फोन ओवरहीट होने लगता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here